News Space
देहरादून

अंकुर के `Auric’ शो ने वीकेंड को मस्ती-मदहोशी में बदला

गानों और संगीत की धुन पर थिरके नौजवान-किशोर

स्टैंड अप कॉमेडियन जाकिर भी पहुंचे `Auric’

Chetan Gurung

बॉलीवुड के गायक और युवा दिलों की पसंद अंकुर तिवारी ने युवाओं के वीकेंड (शनिवार की रात) को अपने अलग अंदाज-मिजाज वाले गानों और संगीत की धुनों से मस्ती भरा-यादगार बना दिया। जगह थी-शहर का सबसे खूबसूरत और तेजी से उभर रहा रेस्तरां `Auric’..राजपुर की खूबसूरत फिजाँ में युवा अंकुर ने अपने गानों से संगीत की खूबसूरत और कर्णप्रिय धुनों को घोल दिया था। उसके एक-एक गाने पर युवा और किशोर ही नहीं कई बड़ी उम्र वाले भी खुद के कदमों को रोक नहीं पा रहे थे। जब तक अंकुर की तिलस्मी अंगुली गिटार पर चलती रही। गले से एक से एक सुर निकले।

सवा दो घंटे तक अपने गीत-गानों और संगीत से अंकुर ने किसी को शांत-खामोश बैठने नहीं दिया। शुरुआत उसने कुछ सॉफ्ट-रोमांटिक गानों से की। फिर रात जवान-हसीन होती गई। साथ ही गानों का सुर और अंदाज भी ज्यादा मस्ती भरा होता गया। गानों के नशे ने हर किसी को अपने मोहपाश में बांध लिया था। हर शख्स को उस वक्त हाल में झूमते देखा जा सकता था। अंकुर ने गली बॉय' और साहिब बीबी और गैंगस्टर’ समेत कई फिल्मों में न सिर्फ संगीत दिया है बल्कि गाया भी है।

उसने बीच में सिर्फ एक ब्रेक छोटा सा, पाँच मिनट का लिया। उसके बाद फिर गिटार थाम लिया। उसके बैंड का नाम `अंकुर तिवारी एंड गलत फैमिली’ है। शो की शुरुआत वाकई जबर्दस्त गलतफहमी से हुई। मैं हर्ष और यश के निमंत्रण पर था। इन युवाओं के पिता अनिल मिश्र मित्र हैं। जब पहुंचा तो लंबे बालों वाले लड़कों का बैंड परफॉर्म कर रहा था। मुझे पता नहीं चला। कब उनका शो खत्म हुआ। कब अंकुर के बैंड के सदस्य उनकी जगह पहुँच गए।

अपने फैंस के साथ नामी गायक अंकुर तिवारी
स्टैंड अप कॉमेडियन जाकिर खान फैंस के साथ

मैं कुर्सी पर था। बगल में एक इकहरे बदन और दाढ़ी लिए युवा शर्ट उतार के सिर्फ टी शर्ट में गिटार के साथ कुछ कर रहा था। मैंने पूछा ये लोकल बैंड है? उसने कहा-नहीं। कहाँ से हैं? जवाब मिला-मुंबई से। मैंने पूछा-अच्छा ये दूसरा बैंड है? पहले वाला लोकल था? उसने कहा-जी। मैंने नाम पूछा लोकल बैंड का। उसने कहा, पता कर के बताता हूँ। फिर उसके बैंड का नाम पूछा। उस नौजवान ने जवाब दी-Ankur Tiwari and Galat family..दो बार पूछने पर भी सिर्फ `अंकुर तिवारी’ समझ में आया..आगे की लाइन समझ में नहीं आया..सो मैंने जाने दिया..फिर नहीं पूछा..

कुछ देर बाद शो शुरू हुआ..अचानक मैंने देखा..वही बंदा गिटार थामे ऑडियन्स को संबोधित कर रहा था-मैं अंकुर तिवारी..मैं उसको पहचान नहीं पाया था..उसने भी अपने बारे में कुछ बताया नहीं..उस युवा बंदे की पहचान को ले के ही बड़ी गलत फहमी मुझे हो गई थी..अनिल मिश्र भाई ने पूछने पर बताया-अंकुर के माता-पिता देहरादून ही रहते हैं अब..नौकरी से रिटायर होने के बाद..शायद whispring window या willa में..रात तक अंकुर ने झुमाए और मदहोश किए रखा..सभी को..वैसे लोकल बैंड `जैक एंड जोंग’ ने भी अपनी तरफ से इससे पहले भरपूर मनोरंजन किया..

शो का स्वीट डिश भी कई लोगों को मिला। शो खत्म हुआ तो देश भर में अपनी कॉमेडी से छाए हुए युवा स्टैंड अप कॉमेडियन जाकिर खान भी `Auric’ पहुंचे..जाकिर और अंकुर दोस्त हैं..ऐसा अनिल मिश्र ने बताया..जाकिर का भी शो देहरादून में कल था..शो के बाद वह अंकुर से मिलने ही आया था..लोगों ने उसके साथ भी सेल्फ़ी लेने का मौका नहीं गंवाया..  

Related posts

शराब महकमे में भारी फेरबदल का मंच सजा

Chetan Gurung

त्रिवेन्द्र सरकार(पार्ट-1)-उपलब्धियां हैं पर बड़े सवाल भी

Chetan Gurung

शराब महकमा:कलेक्टर रविशंकर बोले-सख्त एक्शन ले रहा हूँ

Chetan Gurung

Leave a Comment