जन्माष्टमी के अवसर पर देहरादून में डाकरा कैंट के सत्यनारायण मंदिर में शिवजी और पार्वती जी के चरित्र के तौर पर कलाकारों के इस नृत्य में एक किस्म से भगवानों का उपहास ज्यादा दिख रहा है। हरियाणवी गाने पर नृत्य में दोनों कलाकारों के लटके-झटके किसी चालू नौटंकी कलाकारों की ही याद दिला रहे थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here