Corona से जंग:केंद्र सरकार के दफ्तर भी बंद रहेंगे

मौज के लिए निकलेंगे तो पुलिस सिकाई कर सकती है

Chetan Gurung

देहरादून में जिला प्रशासन ने Lock Down नहीं बल्कि एक किस्म से बहुत खूबी से कर्फ़्यू लगा दिया है। सुबह 7 से 10 बजे तक ही दफ्तर और बाजार खुलने के बाद आप घर से बाहर फटक भी नहीं सकेंगे।

Corona के कारण जिलाधिकारी आशीष श्रीवास्तव ने जो प्रतिबंध लगाए हैं, वे कर्फ़्यू के मानकों को पूरा करते हैं। सुबह तीन घंटे की छूट कर्फ़्यू में मान सकते हैं। Lock Down के दौरान पुलिस सख्ती नहीं रहती है, लेकिन बाजार-सरकारी दफ्तरों और अन्य कार्यों को आदेश के जरिये बांध के प्रशासन ने अब लोगों को घरों में ही रहने के लिए बाध्य कर दिया है।

सिर्फ पेट्रोल पंप को कुछ छूट प्रतिबंध के साथ दी है। कोई भी पंप पेट्रोल और डीजल के सिर्फ एक-एक मशीन रख सकेगा। कम से कम कर्मचारियों से काम लेगा। उन निर्माण कार्यों को बरकरार रखने की छूट दी है, जो पहले से चली आ रही है। उनके वहीं पर खाने और रहने की ज़िम्मेदारी उनके प्रबंधन के होगी।

होटलों में पहले से रुके पर्यटकों से जबरन कमरे खाली नहीं कराए जा सकेंगे। ये प्रावधान भी आदेश में शामिल है। Lock Down के दौरान केंद्र सरकार के दफ्तरों को भी शामिल कर लिया गया है। वे भी अब नहीं खुलेंगे। सिर्फ बैंक, ATM और कोषागार कम से कम कर्मचारियों के साथ खुलेंगे। सुबह 10 बजे के बाद सिर्फ उन गाड़ियों को छूट दी जाएगी जो मरीजों को ले जा रही होगी।

तय अवधि से पहले या बाद में बाजार में कल और आज की तरह घूमते हुए मिलने वालों पर पुलिस अब सख्ती करने के लिए आजाद होगी। ऐसे लोगों की अब वह सिकाई भी कर सकती है। ऐसे में मौज और तफरीह के लिए बाहर निकलने वालों को अब घर ही रह कर Corona से खुद की और बाकियों की भी सुरक्षा करनी होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here