, , ,

`कॉरोना’ से जंग:स्वामीराम हिमालयन विवि ने खोले अस्पताल के दरवाजे

चांसलर विजय धस्माना:`Corona’ से लड़ेंगे, पीछे नहीं हटेंगे

300 बेड आरक्षित कर दिए, सरकार से उपकरणों की मांगी मदद

डॉक्टर्स-नर्सेज-पैरामेडिकल स्टाफ से मांगा सहयोग

इम्तिहान की असली घड़ी अब है  

Chetan Gurung

दुनिया को अपने जहरीले डंक से थरथरा रहे `Corona’ वाइरस (Covid-19) से लड़ने के लिए स्वामीराम हियालयन विवि ने अपने अस्पताल के दरवाजे खोल दिए हैं। उत्तराखंड के सबसे बड़े मेडिकल विवि के चांसलर विजय धस्माना ने `Newsspace’ को भेजे वीडियो में कहा, `हम Corona वाइरस से लड़ेंगे, पीछे नहीं हटेंगे। हमारे डॉक्टर्स, नर्सेज और पैरा मेडिकल स्टाफ पूरे हौसले से इस लड़ाई में साथ खड़े हैं’।

धस्माना ने सभी डॉक्टरों और संबन्धित मेडिकल स्टाफ से इस संकट की घड़ी में मदद मांगते हुए कहा कि वे बिना किसी हिचक और फिक्र के अपनी ड्यूटी और फर्ज का पालन करें। बाबा (दिवंगत स्वामीराम) किसी की झोली खाली नहीं रहने देते हैं। तनख्वाह की कोई चिंता न करें। ये वक्त पर मिलती रहेंगी। अपनी दो नर्सों का हवाला भी उन्होंने दिया। उन्होंने कहा कि दोनों ने मुझे आश्वस्त किया, `हम लड़ाई लड़ेंगे। और जीतेंगे’। इससे मुझे और बल मिला।

SRHU के चांसलर ने कहा, `हमारा संस्थान 25 सालों से चिकत्सा और स्वास्थ्य की सेवा में है। हम अपनी ज़िम्मेदारी से इस आड़े वक्त में पीछे नहीं हट सकते हैं। अभी चुनौती का वक्त है। हमने सारी तैयारी कर ली है। उपकरणों की व्यवस्था कर रहे हैं। बहुत सारी कमेटियाँ गठित कर उनको ज़िम्मेदारी बाँट दी गई है। सभी डॉक्टर्स और मेडिकल स्टाफ अपना फर्ज निभा रहे हैं।

उन्होंने कहा कि इस Lock Down काल में स्टाफ के घर-परिवार को किसी भी प्रकार की समस्या नहीं होने देंगे। वे बेफिक्र हो के Corona मरीजों का ईलाज करने में ध्यान दें। वे उसी तरह चिकित्सा कार्य करे, जैसा केदारनाथ आपदा के दौरान किया था। व्हाट्स एप्प के भ्रामक संदेशों पर भरोसा न करें। उनको `Break the Chain of Corona Virus’ के लिए डट के काम करने को प्रेरित किया।

चांसलर धस्माना ने मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत को खत भेज के बताया कि उनके अस्पताल में 300 बेड Corona मरीजों के लिए आरक्षित कर दिए गए हैं। उनके सामने ईलाज के लिए उपकरण खरीदने की समस्या आ रही है। ये कहीं नहीं मिल रहे हैं। इस संबंध में वह अफसरों को उचित निर्देश दे कर विवि को Corona के खिलाफ जंग में मदद करने को कहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *