भारत सरकार-विधानसभा गज़ट में नाम बदलवाया

Chetan Gurung

जाति सूचक शब्द का इस्तेमाल कानूनन जेल भेज देता है। झबरेड़ा के बीजेपी विधायक देशराज कर्णवाल ने अपना नाम ही अब बदल कर देशराज कर्णवाल चमार साहब कर दिया है।

भारतीय दंड संहिता के मुताबिक किसी भी शख्स को खास तौर पर दलित समुदाय वाले को उसकी जाति से संबोधित करना अपराध है। इसके बावजूद कर्णवाल ने खुद का नाम ही चमार रख के सभी को हैरत में डाल दिया। उनकी खास गुजारिश पर भारत सरकार के गज़ट में भी उनका नाम बदल दिया गया है।

विधानसभा सचिव जगदीश चन्द्र ने कहा कि भारत सरकार के साथ ही विधानसभा के प्रपत्रों में भी कर्णवाल का नाम बदल दिया गया है। कर्णवाल ने कहा कि उन्होंने सामाजिक और सियासी वजह से नाम को बदलने का फैसला किया। नामकरण के लिए वह संत रविदास मंदिर (नई दिल्ली) गए हैं। विधिवत अनुष्ठान के साथ नया नामकरण वहीं होगा।

कर्णवाल को बीजेपी से ही निलंबित विधायक प्रणव सिंह चैंपियन के साथ टकराव और विवादों के लिए भी प्रदेश के लोग जानते हैं। उनके नामकरण की वजह के पीछे दलित वोटों की सियासत को और मजबूती से लड़ना माना जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here