CS-सचिव पेश करेंगे डेवलपमेंट रिपोर्ट:PM समय पर पूरा चाहते हैं पुनर्निर्माण कार्य

Chetan Gurung

देश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जो चुनींदा प्रोजेक्ट Top लिस्ट में हैं, उनमें केदारनाथ धाम पुनर्निर्माण कार्य शीर्ष पर है। 8 और 9 सितंबर को दिल्ली में PMO को इस प्रोजेक्ट के अब तक की प्रगति और अन्य मसलों पर राज्य सरकार Presentation देगी। खुद CS ओमप्रकाश और सचिव (पर्यटन) दिलीप जावलकर इस कार्य को अंजाम देंगे।

मोदी के लिए उत्तराखंड और केदार धाम बहुत महत्व रखते हैं। युवा काल में वह उत्तराखंड की कन्दराओं-पहाड़ों में अकेले तप के लिए आने और लंबे समय तक आने का जिक्र गाहे-बगाहे करते रहे हैं। इस धाम का उनकी जिंदगी में किस कदर महत्व है, इसको समझने के लिए इतना काफी है कि वह यहाँ पिछले विधानसभा चुनाव के दौरान भी तमाम व्यस्तताओं से कुछ पल निकाल के ध्यान लगाने आ गए थे।

बेशक उनका ध्यान कार्यक्रम अंतर्राष्ट्रीय आयोजन होने के साथ ही चुनावी नजरिए से हिन्दू वोटों के ध्रुवीकरण की कोशिश भी करार दिया गया था। इसके बावजूद ये हकीकत है कि केदारनाथ धाम के पुनर्निर्माण को ले के वह बेहद सजग हैं। इसकी निरंतर समीक्षा वह वीडियो कॉन्फ्रेंस के साथ ही CS को दिल्ली बुला के या फिर उत्तराखंड आगमन के दौरान अलग से बात कर के करते रहते हैं। CM त्रिवेन्द्र सिंह रावत से भी वह इस बारे में चर्चा करने से कभी नहीं चूकते हैं। ऐसा सूत्रों का कहना है।

इन दिनों धाम के पुनर्निर्माण को ले के काफी तेजी से कार्य चल रहा है। मुख्य सचिव बनने के बाद ओमप्रकाश का केदारनाथ धाम जा के पुनर्निर्माण कार्यों का जायजा लेना भी PMO में होने वाले प्रेजेंटेशन की पूर्व तैयारी का हिस्सा था। कल और परसों सीएस और पर्यटन-तीर्थाटन-धर्मस्व सचिव PMO के आला अफसरों के सम्मुख पूरी जानकारी देंगे कि प्रोजेक्ट किस स्टेज पर है और किस रफ्तार से कार्य चल रहे हैं। कार्य कब तक पूरे हो जाएंगे। प्रेजेंटेशन के लिए दो दिन तय होने से साफ होता है कि इस प्रोजेक्ट को कितनी बारीकी से देखा जा रहा है और इसकी प्रगति का विश्लेषण किस स्तर पर होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here