आंकड़े फिर हजार पार:आफत साबित हो रहे दून समेत चारों मैदानी जिले

Chetan Gurung

बुधवार का दिन (1069 पॉज़िटिव) कोरोना मरीजों और खास तौर पर उम्रदराजों के लिए बहुत खतरनाक साबित हुआ। 4 महिलाओं समेत 13 पुरुषों को इस विश्वव्यापी महामारी ने लील कर प्रदेश में मौत का आंकड़ा 529 पहुंचा दिया। देहरादून में सबसे अधिक 318 केस मिले। चारों मैदानी जिले कोरोना के नजरिए से उत्तराखंड के लिए आफत बने हुए हैं। सबसे ज्यादा केस इन्हीं जिलों में मिल रहे हैं।

देहरादून में एक्टिव केस भी सबसे ज्यादा 4082 हैं। कोरोना केसों की तादाद राज्य में 43,720 हो गई है। अब तक ईलाज के कारण ठीक होने वालों की तादाद 31123 हो चुकी है। हरिद्वार (127), नैनीताल (127), उधम सिंह नगर (237) में फिर कोरोना के वाइरस खौफ का ज्वार-भाटा लाए जा रहे हैं। अधिक उम्र वालों के लिए कोरोना लगातार जानलेवा होता जा रहा है।

आज जिन कोरोना मरीजों ने आखिरी सांस ली उनकी उम्र 50 से ले के 94 साल तक थी। सिर्फ एक मरीज की उम्र 30 साल थी। अन्य मृतकों की उम्र 76-56-60-72-78-60-62-65-59-55-63-60-94-62-50-54 साल थी। आज का दिन सबसे ज्यादा मौत के लिहाज से सबसे खराब रहा। इतनी मौतें एक दिन में पहले कभी नहीं हुई थीं। 8 की मौत AIIMS ऋषिकेश में हुई। डबलिंग रेट सुधर के 28.60 हो गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here