बोले-ईलाज के ईजाद तक अत्यधिक सतर्कता बरतें:गर्भवती कतई लापरवाही न बरतें

Chetan Gurung

महामारी की विभीषिका के दौर में मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने 50 साल से अधिक उम्र के लोगों और गर्भवतियों को खास तौर पर आगाह किया कि वे कोरोना लक्षणों के प्रति लापरवाही न बरतें। अधिकांश मौतें उन मरीजों की हो रही, जिनकी अवस्था 50 साल से अधिक थी। साथ ही स्वास्थ्य के प्रति लापरवाह थे।

उन्होंने गर्भवतियों को भी खास तौर पर सलाह दी कि वे कोरोना लक्षणों के प्रति सजग-सचेत रहें। त्रिवेन्द्र ने वीडियो संदेश जारी कर कहा कि अध्ययन में ये निष्कर्ष निकला है कि कोरोना के शिकार अधिकांश लोग उम्रदराज थे। साथ ही महिलाओं में कई गर्भवती थीं। मौत के शिकार लोगों में कईयों ने लक्षण दिखाई देने के बावजूद कोविड के इलाज की कोशिश नहीं की। लापरवाही बरतते रहे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जो भी उम्र दराज हैं और कोरोना के लक्षण दिख रहे हैं तो फिर तत्काल कोविड टेस्ट कराएं। जिनको अन्य गंभीर बीमारी भी हैं, वे खास तौर पर सजग रहें। गर्भवती महिलाएं इस दिशा में अतिरिक्त सतर्कता बरतें। त्रिवेन्द्र ने कोरोना के मानकों के पालन पर ज़ोर दिया। साथ ही दवाई ईजाद होने तक कोई भी लापरवाही इस मामले में करने से बचने को कहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here