देहरादून में 14 जिंदगियाँ महामारी से खत्म:डबलिंग रेट हुआ सर्वश्रेष्ठ-94.59 दिन

Chetan Gurung

उत्तराखंड में गुरुवार को 18 covid-19 मरीजों की जिंदगियाँ खत्म हो गईं। नए मरीज हालांकि फिर Under-500 (423) मिले। मरीजों की तादाद में लगातार गिरावट के बावजूद मौतों पर लगाम न लगने पर हैरानी जताई जा रही है। इस बात पर खुश हुआ जा सकता है कि डबलिंग रेट बेहतरी का रेकॉर्ड (94.59 दिन) बनाने में सफल रहा।

सरकार की कोशिशों के चलते मरीजों की तादाद अप्रत्याशित रूप से घट गई है। जो तादाद कभी 2000 तक चली गई थी वह अब 500 के आसपास या फिर नीचे आ चुकी है। ऐसा नियमित रूप से हो रहा है। सवाल ये उठ रहा है कि जब मरीज वाकई कम हो रहे हैं तो फिर मौतें क्यों कम नहीं हो रहीं? या फिर बढ़ रही हैं! इसकी वजह बताने में सरकार के अफसरों के पास भी अभी कोई ठोस दलील नहीं है।

देहरादून में कोरोना मरीज सबसे ज्यादा (आज 150) मिल रहे हैं। मौतें भी यहीं अधिक हो रही हैं। वृहस्पतिवार को हुई मौतों में 14 राजधानी के खाते में गईं। राज्य में 56493 पॉज़िटिव केस अभी तक मिल चुके हैं। ठीक होने वालों की तादाद 49631 है। 814 मौतें हो चुकी हैं। 5682 एक्टिव केस हैं।

सुशीला तिवारी मेडिकल कॉलेज, हल्द्वानी-कैलाश अस्पताल देहरादून में 3-3, AIIMS ऋषिकेश में 2 और महंत इंद्रेश मेडिकल कॉलेज-हिमालयन इंस्टीट्यूट अस्पताल में 4-4 मरीजों ने दम तोड़े। दून मेडिकल कॉलेज और उत्तरकाशी में 1-1 मरीज की मौत हुई।      

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here