24 घंटे में 9 की टूटी सांस:8 पुरुष:सभी 50 से ऊपर उम्र वाले

Chetan Gurung

त्यौहारों का मौसम अब तकरीबन खत्म हो गया है लेकिन आशंका जताई जा रही कि Corona की दूसरी लहर की शुरुआत छोड़ गया। एक बार फिर 9 कोरोना मरीजों की मौत 24 घंटे के भीतर होने से सरकार-लोग चिंतित नजर आ रहे हैं। दिन भर में कुल-420 कोरोना पॉज़िटिव केस सामने आए। ये शोध का विषय हो सकता है कि मृतकों में अधिकांश पुरुष मरीज हैं।

दशहरा के बाद दिवाली और भैया दूज भी चला गया। इस तरह साल के सभी बड़े पर्व अब खत्म हो चुके हैं। इन पर्वों के कारण राज्य सरकार ने भी ख़ासी छूट लोगों को दी हुई थी। लोगों ने भी सर्वव्यापी महामारी के खौफ को दिमाग से उतार फेंक कोरोना संग कबड्डी-कुश्ती खेलनी शुरू कर दी है। बिना ये सोचे कि न तो ये खत्म हुई है न ही इसकी औषधि ही ईजाद हुई है। बाज़ारों में मेले जैसी भीड़ कहीं से इस बात का संकेत नहीं दे रही कि Covid-19 अभी कायम है।

दिल्ली में तो वहाँ की सरकार एक बार फिर सख्ती अपनाने के हक में नजर आ रही है। दुनिया के कई हिस्सों के साथ ही दिल्ली में भी कोरोना का प्रकोप फिर बढ़ चला है। उत्तराखंड-केंद्र सरकार की छूटों ने देवभूमि में भी कोरोना केसों और मौतों को फिर हवा देना शुरू कर दिया है। आंकड़ों से इस किस्म के झलक मिलने लगी है। आज 425 मरीज ठीक हुए। 69307 केस अभी तक राज्य में मिल चुके हैं। 4147 एक्टिव केस अभी राज्य में हैं। 16597 सैंपल अभी लैब में नतीजों का इंतजार कर रहे हैं।

सबसे ज्यादा 153 केस देहरादून में कल रात-आज दिन भर में सामने आए। 19373 केस राजधानी में अब तक सामने आए हैं। वह शीर्ष पर है। आज जिन मरीजों ने दम तोड़े, वे 67-56-77-81-80-75-50-63-60 साल के थे। उम्रदराज और 50 साल की उम्र पार वालों के लिए कोरोना घातक बना हुआ है। बुधवार को दम तोड़ने वालों में 1 को छोड़ बाकी सभी पुरुष मरीज थे। 6 की मौत देहरादून (हिमालयन इंस्टीट्यूट अस्पताल-दून मेडिकल कॉलेज-महंत इंद्रेश मेडिकल कॉलेज-AIIMS) में हुई। रुद्रपुर-हल्द्वानी-पिथौरागढ़ में भी 1-1 मरीज ने आखिरी सांस ली।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here