देहरादून की फिर Double Century (210):पहाड़ों में भी दौड़ने लगी महामारी:खेलों के शुरू होने से बढ़ेंगे खतरे

Chetan Gurung

बढ़ते कोरोना खतरे के बीच क्रिकेट गतिविधियां देहरादून में शुरू हो चुकी हैं।

देहरादून ने लगातार दूसरे दिन Corona केसों के मामले में Double Century (210) ठोंक डाली। पहाड़ों में भी जिस तरह कोरोना केस बढ़ने लगे हैं, उससे इस आशंका को बल मिल रहा है कि महामारी अब सब जगह खौफ के पंजे फैला रही है। आज 8 मौतें फिर हुईं। सरकार के स्कूल-कॉलेज-खेल गतिविधियां-दफ्तर-संस्थान खोलने और UnLock श्रंखला पर अब सवाल उठने लगे हैं। क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड ने तो बिना प्रशासनिक मंजूरी के ही Lock Down के दौरान स्पेशल जनरल मीटिंग कराई और क्रिकेट टीमों के ट्रायल भी शुरू कर खिलाड़ियों की जान खतरे में डाल दी।

देश के कई हिस्सों में कोरोना ने फिर से सिर उठा लिया है। दिल्ली-गुजरात इनमें प्रमुख है। माना जा रहा है कि अगर बैक लॉग को जल्दी निबटाया जाए तो उत्तराखंड में भी कोरोना का असली असर सामने आ सकता है। आज तक 17595 नमूने लैब में नतीजों के लिए पड़े हुए हैं। इसके साथ ही अधिकांश Antigen Test लैब बंद हैं। RT-PCR टेस्ट की रफ़्तार भी मद्धिम पड़ चुकी है। भले सरकार का दावा है कि टेस्ट बढ़ाए गए हैं।

अभी शिक्षण संस्थान बंद हैं, लेकिन शर्तों के साथ खुलने लगे हैं। खेल गतिविधियां शुरू होने वाली हैं। देहरादून में क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड ने अपनी गतिविधियां शुरू कर दी हैं। ट्रायल आयोजित किए और कैंप लगाए। प्रशासन को इसके भनक भी लगी या नहीं, जानकारी नहीं। स्पेशल जनरल मीटिंग की शिकायत पर जांच कराई गई थी, लेकिन उसकी रिपोर्ट और कार्रवाई भी कहीं खोई हुई है। बाजार तो पूरी क्षमता के साथ खुल चुके हैं। सरकारी-गैर सरकारी दफ्तर भी अब सामान्य अंदाज में काम करने लगे हैं। ऐसा लग रहा है कि सरकार मानो ये साबित करना चाह रही है कि सब कुछ सामान्य हो चुका है। सिर्फ दो गज की दूरी-मास्क-सेनिटाइजर के नारे भर से सर्वव्यापी महामारी का सामना केंद्र और राज्य सरकार करना चाह रही।

मैदान से लोग डर और बच के पहाड़ों में आ रहे हैं, लेकिन अब पहाड़ भी कोरोना की चपेट में आते लगने लगे हैं। नैनीताल (71), चमोली (57), पौड़ी (38), पिथौरागढ़ (37), टिहरी (31), रुद्रप्रयाग (28), अल्मोड़ा (24) में शाम 6 बजे तक ही काफी केस मिल चुके थे। हरिद्वार (43) और उधम सिंह नगर (30) में अलबत्ता, पहले के मुक़ाबले पॉज़िटिव की संख्या गिरी है। ये जरूर समझ से बाहर लग रहा है कि पूरे प्रदेश में सिर्फ देहरादून में ही कंटेनमेंट जोन (6) कैसे हैं और सिर्फ इतने कैसे रह गए। कभी ये 500 के करीब थे।

अभी भी 4166 एक्टिव केस राज्य भर में हैं। 91.61 प्रतिशत रिकवरी दर चल रही है। अब तक 70790 केस सामने आए हैं। 64851 लोग ठीक हो चुके हैं। 1196 एक्टिव केस राजधानी में हैं। सबसे ज्यादा 635 मौतें यहाँ हुई हैं। पिछले 24 घंटे में देहरादून,पिथौरागढ़, श्रीनगर, हल्द्वानी में 2-2 कोरोना मरीजों की मौत हो गई। 2 महिलाएं भी इनमें शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here