तीरथ ने कहा,`कुम्भ में ऐसा करें कि दुनिया में उत्तराखंड का नाम रोशन हो’

Chetan Gurung
मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने आज स्मार्ट-आधुनिक-संवेदनशील पुलिस की पैरोकारी की। मेला नियंत्रण भवन (सीसीआर) में शुक्रवार को आपदा राहत दल, 40वीं वाहिनी पीएसी के आदर्श बैरक, कुम्भ मेला-2021 के अन्तर्गत निर्मित पुलिस सर्विलांस सिस्टम के कमाण्ड कण्ट्रोल सेण्टर का लोकार्पण करते हुए इसके कम अवधि में निर्माण के लिए अफसरों की तारीफ भी की।

इस मौके पर मुख्यमंत्री ने स्मार्ट कण्ट्रोल रूम समय को वक्त की जरूरत करार डेरे हुए कहा कि इसका डिजीटलीकरण प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी की  मंशा के अनुरूप किया गया है। पुलिस स्मार्ट, आधुनिक तथा संवेदनशील होगी तो वह अधिक सार्थक साबित होगी। लोगों में उसको ले के अधिक विश्वास जगेगा।

मुख्यमंत्री ने आपदा राहत दल,पीएसी के 70 बेड वाले आदर्श बैरक में दी गई सुविधाओं और व्यवस्थाओं, साफ-सफाई आदि की प्रशंसा करते हुए कहा कि अच्छा वातावरण व अच्छी सुविधाएं जवानों का  का मनोबल बढ़ाता है। सरकार पुलिस के आधुनिकीकरण पर कोई कोर-कसर नहीं रखेगी।  हम सभी अपनी-अपनी जिम्मेदारी निभाते हुए महाकुम्भ को सफल बनाएंगे।

उन्होंने कहा कि महाकुम्भ में पूरे विश्व से श्रद्धालु आते हैं। पुलिस-प्रशासन को इस तरह कार्य करने हैं कि उत्तराखंड का नाम पूरी दुनिया आमें छा जाए। इस सबके साथ ही कोविड के नियमों का पालन सुनिश्चित होना चाहिए। पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने कहा कि उत्तराखण्ड पुलिस को स्मार्ट बनाया गया है। यह कण्ट्रोल रूम इसका उदाहरण है। महाकुम्भ में ऐसी व्यवस्था बना रहे हैं कि स्थानीय लोगों को कम से कम दिक्कतों का सामना करना पड़े। 

मुख्यमंत्री ने देवभूमि रक्षक पत्रिका, दो प्रमुख गीतों-’’ये व्योम कुम्भ, धर्म ध्वजा का एवं गायक कैलाश खेर के स्वर में गाया गया ’’ये धर्म कुम्भ, ये कर्म कुम्भ ….ये मानवता का कुम्भ तथा कौन सा स्नान घाट आपके नजदीक है आदि की जानकारी देने वाले एप का विमोचन किया। मेलाधिकारी दीपक रावत ने एप की जानकारी मुख्यमंत्री को दी।

इस अवसर पर  जिलाधिकारी सी रविशंकर, मेला पुलिस के पुलिस महानिरीक्षक संजय गुंज्याल, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (कुम्भ मेला) जनमेजय खण्डूरी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक-हरिद्वार सेंथिल अबुदई कृष्णराज भी मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here