कुम्भ से ऊपर कुछ नहीं:देवस्थानम बोर्ड पर होगा पुनर्विचार:CM

Chetan Gurung

संतों के दबाव में आज मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने मुनि की रेती और ढालवाला की शराब की दुकानों को बंद करने का ऐलान किया। सप्तसरोवर, हरिद्वार में विश्व हिंदू परिषद के केन्द्रीय मार्गदर्शक मंडल उपवेशन में में उन्होंने कहा कि कुंभ की आस्था से कोई समझौता नहीं किया जायेगा। जिन दो शराब की दुकानों को बंद करने का फैसला किया गया, वे कुंभ क्षेत्र में आती हैं।  

तीरथ ने ये भी वादा किया कि देवस्थानम बोर्ड में शामिल किए गए 51 मंदिरों पर पुनर्विचार किया जायेगा। जल्द ही तीर्थ पुरोहितों की बैठक बुलाई जायेगी। सबके हक-हकूकों का पूरा ध्यान रखा जायेगा। चार धामों के बारे में शंकराचार्यों ने प्राचीन काल से जो व्यवस्था की है, उसका पूरी तरह पालन किया जाएगा। इसमें कोई छेड़छाड़ नहीं होगी।

            मुख्यमंत्री ने कहा कि हरिद्वार में होने वाले अगले कुंभ के लिए 2010 एवं 2021 कुंभ के अनुसार चिहनित भूमि के अनुरूप अखाड़ों, शंकराचार्यों, महामंडलेश्वर और संत समाज के लिए अभी से भूमि आवंटित की जाएगी। इसके लिए डिजिटल प्रक्रिया अपनाई जाएगी। उन्होंने कहा कि शपथ लेने के बाद मैंने सबसे पहले हरिद्वार कुंभ की बैठक ली। शिवरात्रि के स्नान पर्व पर हरिद्वार कुंभ में संतों का आशीर्वाद प्राप्त करने का सौभाग्य मिला।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here