मिठाई की दुकान में बैठ व्यापारियों संग पी चाय

DM को तलब किया:पल्टन बाजार में छज्जों पर जल्द फैसला करने के निर्देश

Chetan Gurung  
मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत आज मेयर सुनील उनियाल गामा के घर पर आयोजन से वापसी में अचानक Smart City की प्रगति देखने पल्टन बाजार और उससे पहले परेड मैदान पहुँच गए। कारोबारियों से उनकी समस्या पूछी। उनके साथ मच्छी बाजार के करीब सिंधी स्वीट शॉप में बैठ के चाय पी। DM और CEO-Smart City को तत्काल तलब किया। उनको निर्देश दिए कि कारोबारियों को स्मार्ट सिटी के कारण दिक्कत न होने दिया जाए। उनके छज्जों के निर्माण की मांग पर फौरन फैसला करने के फरमान भी सुनाए।

CM Tirath Singh Rawat at parade ground to inspect smart city work progress

पलटन मार्केट के निरीक्षण के दौरान CM के साथ सिर्फ उनके करीबी विशाल गुप्ता थे। बाद में विधायक (राजपुर) खजानदास को भी बुला लिया गया। DM डॉ. आशीष श्रीवास्तव भी तलब कर लिए गए। मुख्यमंत्री को अचानक अपने बीच पा के कारोबारी हैरान और खुश नजर आए। उन्होंने छज्जों के निर्माण पर जल्द फैसला न होने के कारण हो रही दिक्कतों की जानकारी दी। सीएम निरीक्षण करते हुए सिंधी स्वीट शॉप तक पहुंचे। वहाँ व्यापारियों के साथ बैठ के चाय पी और चाय के दौरान चर्चा की।

सीईओ स्मार्ट सिटी और जिलाधिकारी को तीरथ ए निर्देश दिए कि निर्माण कार्यों में लगी सभी एजेंसियों के कार्यों में और तेजी लाई जाए। निर्माण कार्यों से व्यापारियों और आम लोगों को किसी भी प्रकार की परेशानी न हो। निर्माण से संबधित सभी कार्य रात में किए जाएँ। धूल की समस्या के समाधान के लिए कार्य स्थल पर पानी का छिड़काव किया जाए। पल्टन मार्केट में सड़क निर्माण के साथ ही सीवरेज और तारों के अन्डरग्राउंड से संबधित जो भी कार्य हैं, उन्हें साथ-साथ पूर्ण किया जाए। पल्टन मार्केट के कार्यों को 30 अप्रैल तक खत्म किया जाए। गुणवत्ता से समझौता किए बगैर बिजली, सीवरेज, सड़क निर्माण और अन्य सभी कार्य एक साथ किए  जाएं।

तब तक बीजेपी नेता और प्रमुख कारोबारी अनिल गोयल भी पल्टन बाजार पहुँच गए। उन्होंने भी कारोबारियों की समस्याओं-मांगों को मुख्यमंत्री के सम्मुख रखा.. मुख्यमंत्री ने इससे पूर्व परेड ग्राउण्ड में चल रहे स्मार्ट सिटी के कार्यों का निरीक्षण भी किया। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये परेड ग्राउण्ड में स्मार्ट सिटी के तहत जो भी कार्य होने हैं, वे निर्धारित अवधि में पूरे किये जाए। निर्माण एवं सौंदर्यीकरण से सबंधित कार्यों में तेजी के साथ गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखा जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here