Breaking News:कॉलेजों में Admission 1 सितंबर से:1 Oct से पढ़ाई

0
466

मंत्री धन सिंह का 30 October तक सभी परीक्षा नतीजे घोषित करने की हिदायत

Chetan Gurung

राज्य के डिग्री कॉलेजों में एक सितम्बर से नए प्रवेश शुरू होंगे। एक अक्टूबर से नया शैक्षणिक सत्र प्रारम्भ होगा। सभी राजकीय विश्वविद्यालयों को हिदायत दी गई है कि 30 अक्टूबर तक समस्त परीक्षा परिणाम घोषित कर दिए जाएँ। राज्य में नई शिक्षा नीति लागू करने के लिए गठित टास्क फोर्स को होम वर्क शुरू करने के निर्देश दे दिए गए हैं।  

उच्च शिक्षा मंत्री डा. धन सिंह रावत की अध्यक्षता में सचिवालय स्थित वीर चन्द्र सिंह गढ़वाली सभागार में आयोजित राजकीय एवं निजी विश्वविद्यालयों की बैठक में कई अहम फैसले लिये गये। निर्णय लिया गया कि राज्य के समस्त उच्च शिक्षण संस्थानों में प्रथम वर्ष एवं प्रथम सेमेस्टर के प्रवेश पहली सितम्बर से प्रारम्भ कर दिए जाएंगे। UGC गाइड लाइन का पालन करते हुए 1 अक्टूबर से नया शिक्षण सत्र शुरू करना होगा। सभी राजकीय विश्वविद्यालयों को 30 अक्टूबर तक समस्त परीक्षा परिणाम घोषित करने के निर्देश भी मंत्री ने दिए। कोविड नियमों का पालन करते हुए मेडिकल, पैरा मेडिकल एवं नर्सिंग कॉलेजों को अगस्त में ही खोले जाने की मांग पर अनुमति प्रदान करने का निर्णय भी हो गया।

राज्य के सभी विश्वविद्यालयों में NCC, NSS एवं रेडक्रॉस सोसाइटी की Units स्थापित करने के लिए कुलपतियों को निर्देश दिए गए। घटते लिंगानुपात पर सेमिनार आयोजित करने, नमामि गंगे परियोजना के तहत 3-डी पेंटिंग प्रतियोगिता के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त करने, जल जीवन मिशन के तहत विज्ञान प्रयोगशाला के प्रस्ताव भेजने के निर्देश भी कुलपतियों को दिए। ब्लॉक स्तर पर सार्वजनिक पुस्तकालय खोले जाने की खातिर नेशनल लाइब्रेरी कोलकता के सहयोग से सेमिनार आयोजित करने के भी निर्देश धन सिंह ने दिए।

कोविड-19 गाइडलाइन का पालन करते हुए अक्टूबर में सभी राजकीय एवं निजी विश्वविद्यालयों को दीक्षांत समारोह आयोजित करने के निर्देश भी मंत्री ने दिए। बैठक में सचिव (उच्च शिक्षा) दीपेन्द्र चौधरी, कुलपति प्रो. ओपीएस नेगी, डा. पीपी ध्यानी, प्रो. एनके जोशी, प्रो. एनएस भण्डारी, प्रो. सुरेखा डंगवाल, निदेशक (उच्च शिक्षा) प्रो. कुमकुम रौतेला, अपर सचिव एमएम सेमवाल, निजी विवि से कुलपति डा. विजय धस्माना, प्रो. संजय जसोला, प्रो. नरेन्द्र शर्मा, प्रो. शरद पाण्डे, डा. राजेश मिश्रा, प्रो. आरके सिंह, प्रो. जेपी पचौरी, डा. महावीर अग्रवाल, अमित डैन, रजिस्ट्रार डा. महावीर सिंह रावत, डा. एमएस मंद्रवाल भी मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here