खटीमा में लोगों से बोले CM पुष्कर-आपका भाई-बेटा हूँ,उत्तराखंड को आदर्श राज्य बनाना है

0
250

काम लटकाने वाले अफसरों की खैर नहीं:109 योजनाओं का लोकार्पण-शिलान्यास

मुख्यमंत्री से मिल के भावुक हो उठे कई लोग, छलक आए खुशी के आँसू

Chetan Gurung

CM बनने के बाद पहली बार उधमसिंह नगर -खटीमा पहुंचे पुष्कर सिंह धामी के स्वागत-अभिनंदन में हुजूम उमड़ पड़ा

CM बनने के बाद पहली बार अपने घर खटीमा और उधम सिंह नगर पहुंचे पुष्कर सिंह धामी के स्वागत-अभिनंदन में लोग उमड़ पड़े तो कई बुजुर्ग उनसे मिल के बेहद भावुक हो उठे। उनकी आँखें खुशी से छलक आईं। मुख्यमंत्री ने भी उनको सम्मान के साथ गले लगा लिया और उनका आशीर्वाद लिया। रविवार को खटीमा स्थित फाइबर अतिथि गृह में आम जनता से सीधे संवाद करते हुए उन्होंने कहा कि वह उनके भाई-बेटे हैं। उनकी उम्मीदों को पूरा करने के लिए जान तक लगा देंगे। उत्तराखंड को आदर्श राज्य बनाने के लिए सभी को मिल जुल के कार्य करने होंगे।

मुख्यमंत्री ने सामाजिक- धार्मिक संगठनों, बार एसोसिएशन, उद्योग बन्धु, पार्टी कार्यकर्ता, किसान, पूर्व सैनिक, व्यापारियों से संवाद कर उनकी समस्याएं सुनीं और उनको जल्द से जल्द हल करने का वादा किया। वह अपने छोटे से शहर में लोगों से मिले सम्मान और प्यार से अभिभूत दिखे। कई बुजुर्ग महिलाएं उनके करीब आईं और अपना दुखड़ा सुनाने लगीं। कुछ उनको दुआएं देने लगीं। माहौल भावुक होता दिखा जब पुष्कर ने उनको प्यार और सम्मान से गले लगाया और आशीर्वाद मांगा। उनसे वादा किया कि उनकी हर एक समस्या को वह सुलझाएँगे।

पुष्कर ने लोगों से कहा कि आप सभी के प्यार व आशीर्वाद से  जो जिम्मेदारी मिली है, उसे हम सबको मिलकर निभाना होगा। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार उत्तराखंड को एक अच्छा मॉडल बनाना चाहती है, जहाँ सभी प्रकार का वातावरण अनुकूल हो। उद्योग, पर्यटन, शिक्षा, स्वास्थ्य व रोजगार के मामले में राज्य देश का आदर्श साबित हो। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार नो पेंडेंसी पर कार्य करेगी। अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि जो कार्य जिस स्तर का हो, उसका उसी स्तर पर तत्काल निस्तारण सुनिश्चित करें। आवेदन पत्र किसी भी दशा में लम्बित नहीं रहने चाहिए।

उन्होंने कहा कि यदि किसी भी अधिकारी के स्तर पर कोई लापरवाही प्रकाश में आई तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार ने उत्तराखंड में उद्योगों को स्थापित करने के लिए पैकेज दिए था। उनके कारण ही आज उत्तराखंड में व्यापक स्तर उद्योग स्थापित हुए हैं। उद्योगों की समस्याओं का निस्तारण प्राथमिकता पर किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने भव्य स्वागत पर सभी का आभार प्रकट करते हुए कहा कि इस सम्मान से मिली खुशी को व्याकट करने के लिए मेरे पास कोई शब्द नहीं है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि 2027 तक उत्तराखंड को शिक्षा, स्वास्थ्य, पर्यटन, कृषि, परिवहन, उद्योग और अन्य क्षेत्रों में देश में प्रथम स्थान पर लाना लक्ष्य है। इसके लिए सबका सहयोग चाहिए। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मुझ सरीखे एक सामान्य परिवार के व्यक्ति को मुख्य सेवक बनाया है। जो घोषणाएं व शिलान्यास किए गए है, वे प्राथमिकता के आधार पर पूरे किए जाएंगे। मुख्यमंत्री ने जिले के भाजपा मण्डल अध्यक्षों व महामंत्रियों के साथ भी अलग से बैठक की। इस अवसर पर जिले के प्रभारी मंत्री स्वामी यतीश्वरानंद, सीएमडी फाइबर लि डॉ आरसी रस्तोगी, विधायक प्रेम सिंह राणा, राजेश शुक्ला, मण्डलायुक्त सुशील कुमार, आईजी अजय रौतेला, जिलाधिकारी रंजना राजगुरु, मुख्य विकास अधिकारी हिमांशु खुराना भी मौजूद थे।

अपने जिले के लिए पुष्कर ने सवा सौ करोड़ के करीब की  109 विकास योजनाओं का ऐलान-शिलान्यास किया। वह बेहद व्यस्त कार्यक्रम के चलते अभी तक घर नहीं जा पाए थे। उनकी पत्नी गीता और परिवार के सदस्य, नातेदार-छोटे से खटीमा के लोग पुष्कर को मुख्यमंत्री के तौर पर अपने सामने देख बेहद भावुक और खुश नजर आए। कईयों की आँखें खुशी से छलकी दिखाई दीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here