ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल प्रोजेक्ट::CM पुष्कर की CGM को हिदायत, `और बढ़ाएँ निर्माण की Speed’

0
213

Project का मौके पर लिया जायजा:टनल का निरीक्षण भी किया

लगे हाथों रानीपोखरी के टूटे पुल निर्माण कार्य पर भी दौड़ाई नजर

Chetan Gurung

रेल विकास निगम के अफसरों संघ ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल प्रोजेक्ट की समीक्षा बैठक करते CM पुष्कर सिंह धामी

CM पुष्कर सिंह धामी ने आज रेल विकास निगम के अफसरों को ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल प्रोजेक्ट पर चल रहे कामकाज में और रफ्तार लाने के निर्देश दिए। निगम के अधिकारियों संग ऋषिकेश में समीक्षा के दौरान उन्होंने कहा कि ये PM नरेंद्र मोदी के Dream Projects में से है। इसको जल्दी पूरा कर पहाड़ों में रेल के सफर की सोच को जल्द साकार किया जाए। राज्य सरकार हर सम्भव सहयोग करेगी।

CM पुष्कर सिंह धामी ने रानीपोखरी के टूटे पुल के निर्माण कार्य का जायजा भी लिया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि चार धाम सड़क के साथ ही ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल प्रोजेक्ट भी प्रधानमंत्री मोदी की उत्तराखण्ड को बड़ी देन है। इससे राज्य की आर्थिकी में बड़ा बदलाव देखने को मिलेगा।  बैठक में ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल परियोजना के मुख्य परियोजना प्रबंधक हिमांशु बडोनी ने बताया कि मार्च-2024 तक परियोजना को पूर्ण करने के लक्ष्य के साथ काम किया जा रहा है। अभी तक परियोजना में अपेक्षानुरूप गति से काम हुआ है। ऋषिकेश के बाद परियोजना अंडर ग्राउंड है। भूमि अधिग्रहण किया जा चुका है।

बडोनी ने कहा कि इस रेल लाईन पर 12 स्टेशन और 17 टनल बनाये जा रहे हैं। काम निर्धारित समयावधि में पूरा किया जा सके, इसके लिए विभिन्न स्थानों पर एक साथ काम चल रहा है। एप्रोच रोड पहले बनाई जा रही हैं। CGM ने बताया कि रेल विकास निगम साथ ही साथ अनेक जनकल्याणकारी काम भी कर रहा है। श्रीनगर में 52 बेड का संयुक्त चिकित्सालय और ऑक्सीजन प्लांट बनाया जा रहा है। रेल परियोजना की बेल्ट को हॉर्टीकल्चर और हनी बेल्ट के रूप  में विकसित करने के प्रयास किए जा रहे हैं।

बैठक में विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद अग्रवाल, कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल, सचिव आर मीनाक्षी सुन्दरम, रनजीत सिन्हा, रेल विकास निगम के अपर महाप्रबंधक विजय डंगवाल, वरिष्ठ परियोजना प्रबंधक ओमप्रकाश मालगुडी, अपर महाप्रबंधक सुमित जैन भी उपस्थित थे।  मुख्यमंत्री ने ऋषिकेश रेलवे स्टेशन और गुल्लर डोगी, टिहरी में परियोजना के तहत निर्माणाधीन टनल भी मौके पर जा के देखें। देहरादून वापसी के दौरान रानीपोखरी में High-Way पर टूटे पुल का भी निरीक्षण किया। उन्होंने निर्माण कार्य को तेजी से पूरा करने के निर्देश दिए।    

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here